संज्ञा किसे कहते हैं ? संज्ञा की परिभाषा और संज्ञा के भेद

Sangya Kise Kahate Hain

Sangya Kise Kahate Hain / Noun kise kahate hain / व्याकरण के महत्व के पॉइंट संज्ञा के बारेमे अगर आप जानना चाहते है तो यहां में बहुत आसान तरीके से संज्ञा किसे कहते हैं उसके बारेमे समझाने जा रहा हु।

Sangya kise kahate hain
Sangya Kise Kahate Hain

किसी भी भाषा में व्याकरण अहम हिस्सा होता है। और हमे व्याकरण को समजना बहुत जरुरी है। आज आप संज्ञा के बारेमे जानने वाले है। हर व्याकरण के पॉइंट की परिभाषा होती है ताकि हम आसानी से समज सकते है। संज्ञा को इंग्लिश में Noun कहते हैं।

संज्ञा की परिभाषा – किसी भी व्यक्ति, प्राणी, स्थान या किसी भी वस्तु के नाम को संज्ञा कहते है। जैसे की जयपुर, दिनेश, कुत्ता वगेरा।

संज्ञा के कुछ उदाहरण

  • मुकेश भजन कर रहा है। इसमें, मुकेश व्यक्ति का नाम है।
  • आम मीठा होता है। इसमें आम फल का नाम है।

यह भी पढ़े

संज्ञा के कितने भेद होते हैं

Sangya Kise Kahate Hain
Sangya Kise Kahate Hain

संज्ञा के भेद यानी प्रकार। तो संज्ञा के कुल तीन भेद होते है।

  • व्यक्तिवाचक संज्ञा
  • जातिवाचक संज्ञा
  • भाववाचक संज्ञा

व्यक्तिवाचक संज्ञा किसे कहते हैं

Sangya Kise Kahate Hain
Sangya Kise Kahate Hain

ऐसे शब्द जो किसी व्यक्ति, स्थान, वस्तु आदि की पहचान करवाता है उसे वयक्तिवाचक संज्ञा कहते है।

व्यक्तिवाचक संज्ञा के कुछ उदहारण

  • श्याम: श्याम एक व्यक्ति का नाम है। श्याम नाम उस व्यक्ति की पहचान करवाता है।
  • दिनेश: दिनेश किसी व्यक्ति का नाम है
  • रिक्शा: रिक्क्षा एक एक से दूसरे स्थान पर जाने का साधन है लेकिन यह नाम को सूचित करता है इसलिए रिक्शा व्यक्तिवाचक संज्ञा है।
  • जयपुर: जयपुर एक जिल्ला है इसलिए यह भी व्यक्तिवाचक संज्ञा है।

जातिवाचक Sangya kise kahate hain

Sangya Kise Kahate Hain
Sangya Kise Kahate Hain

जो शब्द जाती की पहचान करवाता है उसे जातिवाचक संज्ञा कहा जाता है। जैसे की नदी, पर्वत, पुरुष, स्त्री वगेरा

जातिवाचक संज्ञा के दो प्रकार होते है।

  • द्रव्यवाचक संज्ञा
  • समूह वाचक संज्ञा

द्रव्यवाचक संज्ञा किसे कहते है

ऐसी संज्ञा जिन में किसी द्रव्य, धातु, सामग्री या पदार्थ वगेरा की पहचान होती हो उसे द्रव्यवाचक संज्ञा कहा जाता है।

उदारहण

  • मकई: एक अनाज है जिसका भोजन तैयार किया जाता है
  • घी: घी एक प्रवाही द्रव्य है जिसका भोजन में उपयोग किया जाता है।
  • सोना: सोना एक धातु पदार्थ है जिसका उपयोग आभूषण बनाने के लिए होता है।
  • चावल: एक अनाज है जिसका भोजन तैयार होता है।

समहुवाचक संज्ञा किसे कहते है

ऐसी संज्ञा जीसमे किसी एक व्यक्ति या पदार्थ की पहचान नहीं होती है लेकिन पुरे समूह की पहचान होती है ऐसी संज्ञा को समूहवाचक संज्ञा कहते है।

उदाहरण

  • परिवार: परिवार में एक से ज्यादा सदस्य होते है इसलिए परिवार समूहवाचक संज्ञा है।
  • पुस्तकालय: पुस्तकालय में एक पुस्तक न होकर ज्यादा पुस्तकों का एक समूह है।
  • आर्मी: आर्मी में बहुत सैनिक होते है
  • संगठन: किसी भी संगठन में एक से ज्यादा व्यक्ति का समूह होता है।

भाववाचक संज्ञा किसे कहते है

Sangya Kise Kahate Hain
Sangya Kise Kahate Hain

ऐसी संज्ञा जिसमे पदार्थ या व्यक्ति का गुण, धर्म, दोष, अवस्था वगेरा का पहचान करवाता है ऐसी संज्ञा को भाववाचक संज्ञा कहते है।

उदाहरण

  • युवानी: युवा व्यक्ति एक एक अवश्था
  • वृद्धावस्था: एक अवस्था है
  • मिठास: मिठास एक गुण है।
  • क्रोध: एक भाव है।
  • उदाश: यह भी एक भाव है।
  • मोटापा: यह एक अवस्था है।

सारांश

व्याकरण का यह संज्ञा पॉइंट को इसके मुख्य तीनो भेद के साथ समझाया है। संज्ञा किसे कहते है Sangya kise kahate hain भाषा के विषयो में अच्छे मार्क्स प्राप्त करने के लिए व्याकरण को अच्छे से समजना जरुरी है। इस आर्टिकल में संज्ञा को उदाहरण के साथ समझाया गया है जो आपको बहुत मददरूप होगा।

यह भी जरूर पढ़े

Similar Posts

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments