CFA Course क्या है? योग्यता, अवधी और करियर

अपना करियर अच्छा बनाने के लिए हमें एक अच्छा कोर्स चुनने की जरूरत है। 12 वीं पास और स्नातक होने के बाद, कई courses उपलब्ध हैं। आप जिस में रुचि रखते हैं उसे चुन सकते हैं। लेकिन आज इस पोस्ट में मैं आपको बहुत ही बेहतरीन CFA course kya hai, इसकी योग्यता क्या है, अवधी ओर यह course करने के बाद आप कैसे करियर बना सकते है उसकी पूरी जानकारी देने वाला हू।

CFA kya hai
CFA kya hai

CFA course क्या है ?

CFA details Highlights

Course NameCFA
योग्यता Graduation OR
4 year Work experience
अवधी 2.5 years to 4 years
करियर Globally
Officail websitehttps://www.cfainstitute.org/

CFA का पूर्ण रूप चार्टर्ड फाइनेंशियल अकाउंटेंट है। सीएफए एक US based वाणिज्य स्ट्रीम पाठ्यक्रम है। इसका मतलब है कि यूएसए विश्वविद्यालय इस पाठ्यक्रम का संचालन करता है। मतलब कि इस कोर्स को करने के लिए आपको अमेरिका जाने की जरूरत नहीं है, आप अपने देश में रहते हुए इस कोर्स को बहुत आसानी से कर सकते हैं। जैसे भारत में रहकर भी यह कोर्स कर सकते है।

आप CFA कोर्स के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। और ऑनलाइन भी फीस जमा कर सकते हैं।

CFA कार्यक्रम वित्तीय संगठनों के लिए डिज़ाइन किया गया है। यह पाठ्यक्रम भारत में बहुत कम प्रसिद्ध है, लेकिन धीरे-धीरे सीएफए course भारत में बहुत सारे लोग कर रहे हैं। सीएफ़ए संबंधित पाठ्यक्रम सीए है। लेकिन सीए के छात्र सीएफए पाठ्यक्रम का भी उल्लेख करते हैं।

यह कोर्स दुनिया भर में है। सीएफए कोर्स को 100 से अधिक देशों में मान्यता प्राप्त है। मतलब कि जिस देश में इस कोर्स को मान्यता मिली हुई है, आप सीएफए प्रोग्राम के बाद उस देश नौकरी पा सकते हैं।

इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप बैंक, फाइनेंशियल, म्यूचुअल फंड जैसी जगहों पर काम कर सकते हैं।

योग्यता

  • स्नातक (जैसे B.com, BBA, B.A, Bsc) या
  • 4 साल काम (नौकरी) का अनुभव

Graduation (स्नातक डिग्री)

दोस्तों, CFA जैसे वैश्विक कार्यक्रम को करने के लिए आपके पास स्नातक की डिग्री होनी चाहिए। सीएफए एक कॉमर्स स्ट्रीम से संबंधित कोर्स है। लेकिन यह आवश्यक नहीं है कि केवल कॉमर्स स्ट्रीम के छात्र ही CFA कोर्स कर सकते हैं, लेकिन अन्य स्ट्रीम के छात्र भी इस कार्यक्रम में शामिल होकर अपना करियर बना सकते हैं।

वर्क एक्सपीरियंस

सीएफए संस्थान द्वारा यह सबसे अच्छा निर्णय है। अगर आपने 12 वीं पास कर ली है, तो आपने आगे की पढ़ाई बंद कर दी है और नौकरी करना शुरू कर दिया है। इसलिए टेंशन न लें। यदि आप नौकरी कर रहे हैं और 4 साल की नौकरी का अनुभव है, तो आप अभी भी सीएफए कार्यक्रम में शामिल हो सकते हैं।

CFA के लिए जरुरत

यदि आप सीएफए कोर्स करना चाहते हैं, तो नीचे सीएफए कार्यक्रम की आवश्यकताएं हैं

International passport licence

CFA कार्यक्रम में शामिल होने के लिए पासपोर्ट की आवश्यकता होती है। हमें यूएस जाने की जरूरत नहीं है, लेकिन पासपोर्ट नंबर अनिवार्य रूप में दर्ज करना होगा।

English Language

आप सीएफए कार्यक्रम केवल अंग्रेजी भाषा में कर सकते हैं। आपको अंग्रेजी में सीएफए परीक्षा भी तैयार करनी होगी। इसलिए, अंग्रेजी भाषा में परफेक्ट होना बहुत जरूरी है।

अवधी

इस कोर्स की अवधि 2.5 वर्ष है। लेकिन सीएफए Course को पूरा करने में अधिक समय लग सकता है।

Exam Pattern

LevelQ-TypeQ- NumberTimePassing Rate
Level-1MCQ2403 hourse
(Morning and Afternoon Sessions)
43%
level-2MCQ, Case Study1203 hourse
(Morning and Afternoon Sessions)
45%
level- 3MCQ, Theory (Essay Type)Nearby 80 Questions3 hourse
(Morning and Afternoon Sessions)
56%

Subjects

  • Ethical and professional standards
  • Quantitive method
  • Financial reporting and analysis
  • Economics
  • Corporate finance
  • Equity investments
  • Fixed income
  • deratives
  • Alternative investmet
  • Portfoloye management

सीएफए कार्यक्रम में सभी तीन स्तरों के लिए विषय same होते हैं। मतलब कि आपको तीनों स्तरों में एक ही सिलेबस पढ़ना है। प्रश्न कठिनाई हर स्तर पर बढ़ती रहती है।

Exam fees

सीएफए कार्यक्रम में, आपको दो प्रकार के शुल्क का भुगतान करना होगा। नामांकन (Enrollments) शुल्क और परीक्षा शुल्क

Enrollments fees 450 $ (dollars) (CFA कोर्स की फीस आपको डॉलर में Pay करनी होती है। $ मतलब डॉलर है। )

ExamFeesTime
Early Ragistratipon700$From 5 February 2020 through 25 March 2020 (Expired Time)
Standard ragistration1000$ From 26 March 2020 through 19 August 2020
Late ragistration1450$From 20 August 2020 through 9 September 2020

CFA Exam Centers

भारत में CFA पाठ्यक्रम के कई परीक्षा केंद्र हैं। तो आप सीएफए कार्यक्रम को पंजीकृत करते समय निकटतम स्थान में से एक चुन सकते हैं।

  • New Delhi
  • Mumbai (M.H)
  • Pune (M.H)
  • Ahmedabad (Gujrat)
  • Bhopal 
  • Bangalore 
  • Chennai 
  • Hyderabad 
  • Jaipur (Rajasthan)
  • Kolkata 
  • Lucknow

CFA कोर्स के बाद करियर की सम्भावनाये

सीएफए पाठ्यक्रम की परीक्षा 3 स्तरों पर होती है। सबसे बड़ा फायदा यह है कि आप 1 स्तर पूरा करने के बाद भी नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं।

सीएफए कार्यक्रम के बाद, आप न केवल भारत में बल्कि अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया आदि जैसे अन्य देशों में भी नौकरी पा सकते हैं क्योंकि सीएफए पाठ्यक्रम को 100 से अधिक देशों में मान्यता प्राप्त है।

सीएफए कोर्स के बाद आपको बैंकिंग, म्यूचुअल फंड, निवेश, बीमा, वित्तीय विश्लेषक आदि क्षेत्रों में नौकरी मिल सकती है। आप क्षेत्रों में नौकरियों के लिए आवेदन कर सकते हैं। और आपको अच्छा वेतन मिल सकता है।

Job profiles

  • risk manager
  • Research analyst
  • Consultant
  • Accountant
  • Investment banker
  • Corporate financial analyst

Salary

CFA कोर्स पूर्ण करने के बाद हाई सैलरी नौकरी प्राप्त होती है। जैसे की इन्वेस्टमेंट बैंकर। इस तरह की जॉब के बाद 8 लाख रूपये से भी ज्यादा आप वार्षिक वेतन प्राप्त कर सकते है।

CFA परीक्षा की तैयारी कैसे करे

सीएफए परीक्षा के तीन स्तर होते हैं। पहला स्तर कठिन है, तो दूसरा स्तर पहले स्तर से कठिन है। इसलिए, आपको तैयारी के लिए अधिक समय देना होगा।

यदि आपने कॉमर्स स्ट्रीम से 12 वीं और ग्रेजुएशन किया है, तो सीएफए कोर्स की तैयारी बहुत आसान होगी। अन्य स्ट्रीम में, आपको अधिक मेहनत की आवश्यकता होगी।

सीएफए कार्यक्रम के लिए, आप स्नातक के अंतिम वर्ष से तैयारी शुरू करते हैं। ताकि आप पहले परीक्षण में स्तर को साफ कर सकें।

Conclusion

CFA अपने career को बेस्ट बनाने का अच्छा course हो सकता है। क्यू की यह course आपको globaly career बनाने का मौका देता है। ओर ज्यादा सैलरी वाली जॉब आप इस course के बाद कर सकते है। तो मे आशा करता हू की आप CFA course kya hai ओर इस course के related अन्य जानकारिया अपको जरुर पसंद आई होगी।

यह भी जरूर पढ़े